हिन्दी प्रचारिणी सभा: ( कैनेडा)
की अन्तर्राष्ट्रीय त्रैमासिक पत्रिका

सद्भावना दिवस - सम्पादक

 20 अगस्त 2017 को सद्भावना दिवस के शुभ अवसर पर राजेन्द्र आश्रम,( जो घुमंतू जनजातीय बच्चों का आवासीय परिसर है) में बाल पुस्तकालय का स्थापना समारोह सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर कक्षा 1 से 5 तक के लिए पेंटिंग कार्यशाला एवं कक्षा 6 से 10 तक निबंध कार्यशाला आयोजित की गई। वरिष्ठ साहित्यकार श्री सुधांशु चतुर्वेदी ने फीता काटकर पुस्तकालय का उदघाटन 2किया एवं वरिष्ठ साहित्यकार, संपादक श्री रामेश्वर  काम्बोज ‘हिमांशु’ ने कार्यशाला में बच्चों को लेखन की कई तकनीकी बातों से परिचित कराया। श्री अतुल प्रभाकर(विष्णु प्रभाकर जी के पुत्र), श्री बिशन सेठ, जॉय मुखर्जी , निवेदिता कोले एवं अन्य अतिथियों की उपस्थिति ने कार्यक्रम को रौनक प्रदान की।
कार्यक्रम के दूसरे हिस्से में साहित्यायन परिवार की नन्ही सदस्या आद्रिका ने वंदे मातरम्, नन्हा मुन्ना राही गीत के साथ ही कई कविताओं से बाल कार्यक्रमों का शुभारंभ किया , इसके बाद आश्रम के बच्चों ने भी कविताएँ , कहानियाँ सुनाकर सबका मनोरंजन किया। इस पुनीत अवसर पर हमारे अध्यक्ष ब्रजेन्द्र त्रिपाठी ने कार्यक्रम का आगाज़ करते हुए ट्रस्ट के कार्यों से अतिथियों का परिचय करवाया। आश्रम प्रभारी श्री 1-चमनलाल ने आश्रम के बारे में जानकारी दी। सभी अधिशासी सदस्यों— प्रकर्ष, श्रेया श्रुति, अर्शदीप सिंह, डॉ. मनाली राज , प्रणीता एवं अजीत कुमार ने अपने भरपूर सहयोग से हर बार की तरह इस बार भी कार्यक्रम को ऊँचाई दी। कार्यक्रम का समापन पुरस्कार एवं सभी बच्चों के बीच उपहार वितरण से हुआ। आप सभी की दुआओं का असर है कि हम विकट परिस्थितियों में भी समाज के हितार्थ कुछ कर पा रहे हैं।

-0– डॉ आरती स्मित